जनपद को मिली बड़ी सौगात,जनपद में ही हो सकेंगे अब कोरोना टेस्ट|

जैसा की आप सभी जानते है,उत्तर प्रदेश में कोरोना का कहर बढ़ता ही जा रहा है|जिसको देखते हुए प्रदेश की योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश में फिर एक बार तीन दिन का लॉक डाउन लागू हो गया है|जिसका पूरे प्रदेश में सख्ती से पालन करवाने के सख्त आदेश पुलिस प्रशासन को दिए जा चुके है|जिससे प्रदेश में तेजी से बढ़ रहे कोरोना पॉजिटिव मरीजो पर किसी हद तक काबू पाया जा सके|कोरोना जंग से झुंज रहे जनपद मुरादाबाद के लोगो के लिये एक ख़ुशी की खबर आयी जब कल जिला अस्पताल में ही कोरोना की टेस्टिंग में लैब बनकर तैयार हो गयी|आपको बताते चले की यह बीएसएल-2 आरटीपीसीआर लैब है|जिसका ऑनलाइन शुभारंभ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया|कोरोना माहमारी पर अंकुश लगाने हेतु सरकार गंभीर है|संक्रमण की शुरुआत के बाद जिले के संक्रमितों के सैम्पल जांच के लिए केजीएमयू लखनऊ जाते थे।जिसको देखते हुए शासन से जिले में बीएसएल-2 आरटीपीसीआर लैब की स्थापना के लिए प्रस्ताव मांगा गया था|स्वास्थ्य विभाग ने जिला अस्पताल पेरिसर में जमीन चिन्हित कर प्रस्ताव भेजा|जिसे स्वीकृती देते हुए शासन से लैब निर्माण कराने पर मुहर लगा दी गई थी।इसके साथ ही लैब निर्माण की शुरुआत की गई थी|हाल ही में इस लैब का शुभारंभ करने खुद सीएम योगी आदित्यनाथ के आने की चर्चा भी हुई थी|लेकिन बाद में वह टल गया।अब लैब में सभी मशीन इंस्टॉल की जा चुकी हैं।जिले के कोविड-19 संदिग्धों के नमूनों की जांच अब मुरादबाद में ही संभव हो सकेगी|अब तक जांच के बाद सैम्पल को लखनऊ भेजा जाता था|अब एक दिन में लगभग 100 नमूनों की जांच हो सकेगी,लैब के इंचार्ज डॉ नीलमणि ने बताया कि 6 लोगों को इसके लिए ट्रेनिंग दी गई है|लैब के नोडल अधिकारी डा नीलमणि ने जानकारी दी कि लैब को छह सेक्शन में विभाजित किया गया है|इसमें नमूनों की रिपोर्टिंग, स्टरलाइजेशन सेक्शन, रियल टाइम पीसीआर सेक्शन, सैंपल कलेक्शन व आरएनए निष्कर्षण आदि शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *