नगर निगम ने अतिक्रमण अभियान के नाम पर उजाडे गरीबों के आशियानें |

सबका साथ सबका विकास और सबका विश्वास की दुहाई देने वाली भाजपा की केंद्र और प्रदेश की सरकार के सपने के विपरीत मुरादाबाद का नगर निगम अतिक्रमण अभियान के नाम पर गरीबों के आशियानें उजाड़ने में लगा हुआ है केंद्र की मोदी और प्रदेश की योगी सरकार गरीबो को बसाने और उन्हें रोजगार देने की बात कहते नही थक रही है, और इसके लिए दोनों ही सरकारों ने बहुआयामी योजनाए भी चला रखी है, लेकिन मुरादाबाद से जो तस्वीर सामने आई है है, उसने इन सभी योजनाओं और सरकारों की नियत ओर ही सवाल खड़े कर दिए है, मुरादाबाद के हरथला रेलवे स्टेशन के नजदीक कल नगर निगम द्वारा की गई कार्यवाही से एक परिवार के सामने रोजी रोटी का सवाल खड़ा हो गया है, तस्वीरों में साफ तौर पर नजर आ रहा है एक महिला अपनी छोटी सी दुकान बचाने के लिए नगर निगम टीम के सामने किस कदर गिड़गिड़ा रही है, और निगम की बेरहम टीम उसकी आँखों के सामने ही उसकी दुकान जेसीबी से ध्वस्त कर चल देती है, हालांकि इस कार्यवाही के दौरान आसपास कीऔर महिलाएं बचाव के लिए खड़ी भी होती है, लेकिन कुछ ही देर में जेसीबी कस पंजा एक गरीब परिवार के सपनो को चकना चूर करता हुआ निकल जाता है, दरअसल कुछ स्थानीय नेताओं ने एक साजिश के तहत इस गरीब परिवार को उजाड़ते हुए मंदिर के नाम पर इस जगह को कब्जाने के मंसूबे पाल रखे है, और वो इस कार्यवाही के दौरान मोके पर मौजूद रह कर अपने अनुसार काम कराते हुए भी कैमरे में कैद हुए है, मोके पर मौजूद आसपास के लोगो ने बताया कि ये पिछले कई सालों से छोटी सी दुकान चला कर परिवार के भरण पोषण करते आ रहे थे, अब ये सड़क पर आ गए है इनके चार बच्चे है, अब इनका पेट कैसे भरेंगे, ये सोचने वाली बात है, या यूं कहें मुरादाबाद नगर भाजपा की दोनों सरकारों को पलीता लगाने में लगी हुई है |